वेटरन पिन से सम्मानित लीत राNI आईगगफ

भारत की महान ट्रैक एवं फील्ड खिलाड़ी पी टी उषा को उनके खेल में योगदान को देखते हुए बुधवार को विश्व एथलेटिक्स संचालन संस्था द्वारा 'वेटरन पिन' से सम्मानित किया गया। आईएएएफ प्रमुख सेबेस्टियन को ने यहां 52वें आईएएएफ कांग्रेस के दौरान वेटरन पिन भेंट की। एशिया से तीन खिलाड़ियों खिलाड़ियों एशिया से तीन खिलाड़ियों को इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया, जिसमें से एक ऊषा हैं। ऊषा ने ट्वीट किया, 'दोहा में 52वीं आईएएएफ कांफ्रेंस में वेटरन पिन से सम्मानित करने के लिए मैं आईएएएफ और अध्यक्ष सेबेस्टिन को का आभार व्यक्त करती हूं। मैं अपने देश में एथलेटिक्स को बढ़ावा देने के लिए योगदान जारी रखेंगी। लास एंजिल्स ओलंपिक में रहा है जिसमें वह 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल्स में पहुंचने वाली पहली भारतीय बनी थीं लेकिन एक सेकेंड के सौंवे हिस्से से कांस्य पदक से चूक उन्होंने 1985 जकार्ता गईं थीं। उन्होंने 1985 जकार्ता एशियाई खेलों में कांस्य पदक के अलावा पांच स्वर्ण पदक -100 मी, 200 मी. 400 मी, 400 मी बाधा दौड़ और चार गुणा 400 मी रिलेजीते हैं।