विश्व बैंक भारत में

विश्व बैंक भारत में फड पार्क' के लिए कर्ज देगा : सरकार 


विश्व बैंक देशभर में छोटे और बड़े फूड पार्क स्थापित करने के लिए 3,000 करोड़ रुपए की ऋण सहायता उपलब्ध कराएगा। इस राशि से विशेषतौर से पूर्वोत्तर क्षेत्र में फूड पार्क स्थापित किए जाएगे और इससे किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी। केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने । अधिकतर फूडपार्क यह जानकारा दी। मंत्री ने पूर्वोत्तर क्षेत्र में महाकसि मामलमथाड़ा त बहुत औपचारिकताएं ही बाकी रह गईं हैं और जल्द ही इस कर्ज सहायता के तहत पहली किस्त उपलब्ध हो जाएगी। खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री ने यहां भारतअमेरिका वाणिज्य एवं उद्योग मंडल की उत्तर भारत परिषद (आईएसीसी-एनआईसी) के तत्वावधान में आयोजित 15वें भारत-अमेरिका आर्थिक सम्मेलन में यह जानकारी दी। उद्योग मंडल के अनुसार तेली ने कहा, 'विश्व बैंक देशभर में विभिन्न सथानों पर छोटी और बडी फड पार्क योजनाओं के लिए 3,000 करोड़ रुपए देने पर सहमत हुआ है।' मंत्री ने उद्योग जगत से आगे बढ़कर सरकारी नीतियों का लाभ उठाने का आह्वान किया। मंत्री ने कहा तेली ने कहा, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और धारा ऊए हटाए जाने के बाद, केंद्र ने कश्मीर घाटी के पुलवामा में भी एक फूड पार्क को मंजूरी दी है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस तरह के पार्क स्थापित होने से क्षेत्र में लोगों की आय बढ़ाने और रोजगार पैदा करने के लिए आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने में मदद मिलेगी। कि खाद्य प्रसंस्करण इकाईयों को स्थापित करने में सब्सिडी सहायता का लाभ 75 प्रतिशत तक पहुंच सकता है। तेली ने कहा कि सरकार किसानों की आय को दोगना करने और छोटे तथा मेगा फड पार्क स्थापित करने पर पूरा ध्यान दे रही है ताकि किसानों द्वारा उत्पादित खाद्यान्नों का बेहतर इस्तेमाल हो सके और इन नीतियों का लाभ अंततः किसानों को मिले। 



youtube