चाचा की हत्या का बदला

चाचा की हत्या का बदला लेने के लिए मार डाला था


बाहरी उत्तर जिला पुलिस ने 9 सितंबर को हुई वीरेंद्र मान उर्फ काले की हत्या के आरोप में सवा लाख के इनामी कपिल खेड़ा को रविवार को गिरफ्तार कर लिया। कपिल ने अपने चाचा बबलू खेड़ा की हत्या का बदला लेने के लिए वीरेंद्र की हत्या की थी। __ डीसीपी गौरव शर्मा के मुताबिक, स्पेशल स्टाफ प्रभारी इंस्पेक्टर अजय कुमार, एसआई कमलेश औरएएसआई ओमबीर ने रविवार को सूचना परखेड़ा नहर के पास रोहिणी सेक्टर 34 से कपिल को गिरफ्तार कर लिया। बदले के लिए चार हत्याएं : बीते साल 30 अगस्त को अशोक विहार में बबलू खेड़ा की हत्या कर दी गई थी। हत्या के आरोप में नीरज बवाना का दोस्त प्रवेश मान गिरफ्तार हुआ था। एथा फरारी के दौरान वीरेंद्र ने प्रवेश की मदद की थी। बबलू की हत्या का बदला लेने के लिए उसके भतीजे कपिल ने प्रवेश व नीरज-टिल्लू गैंग को निशाना बनाना शुरू किया। इस साल की शुरुआत में केएन काटजू मार्ग इलाके में प्रवेश के चचेरे भाई अनिल की हत्या कर दी गई थी। एनआईए इलाके में 16 अप्रैल को टिल्लू के साथी के भाई रविंद्र राण और 30 मई को अनिल की हत्या करदी थी