मिट्टीतेल छिड़ककर खुद को लगाई आग

सरकार चाहती है तो मैं मिट्टीतेल सरकार छिड़ककर खुद को आग लगा लंगी'


पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली पीडिता ने मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान दर्ज कराने के बाद उनकी जल्द गिरफ्तारी . की मांग करते हुए बुधवार को कहा कि अगर सरकार इंतजार कर रही है कि वह लिखने खदही मर जाए तो वह खुद पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा लेगी। पीड़िता ने कहा कि मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान होने के तीसरे दिन भी ना तो बलात्कार और न ही शारीरिक रिपोर्टन मर जाए तावहर टकसमा शोषण की रिपोर्ट दर्ज की गई है और ना ही चिन्मयानंद द को गिरफ्तार किया गया है। उसने कहा कि ऐसे में सरकार अगर इंतजार कर रही है कि वह खुद मर जाएं वाली और उसके परिवार को कुछ हो जाए तो वह खुद पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग पीड़िता के पिता का कहना है कि मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान होने के बाद भी चिन्मयानंद को गिरफ्तार न करना और उसके विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज न करना कहां सही है। लगा लेगी। समक्ष रही है एसआईटी शाहजहांपुर। स्वामी चिन्मयानंद प्रकरण में बुधवार को एसआईटी ने कहा कि बलात्कार का आरोप लगाने वाली पीड़िता और चिन्मयानंद की ओर सेदर्ज कराए गए मामलों की अभी कडियां जोडी जा रही हैं। एसआईटी प्रमुख नवीन अरोड़ा ने कहा, हमें 23 सितंबर तक पूरी जांच रिपोर्ट इलाहाबाद उच्च न्यायालय को देनी है और वह इस विवेचना में दोनों मामलों में कडीसेकडी जोडरहेहैं। उन्होंने किसी को भी गिरफ्तार करने से इनकार किया। उधर,इस बीच चिन्मयानंद की हालत ज्यादा खराब होने की वजह से बुधवार को उन्हें शाहजहांपुर के राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया।