चाक से किया हमला

कोच पर चाकू से किया हमला


बदमाशों में अब पलिस का खौफ शायद खत्म होते जा रहे हैं। रविवार को की सुबह महाकाल की भस्मार्ती कर कर लौट रहे युवक पर आधा दर्जन लोगों ने चाकूओं से हमला कर दिया और उसके पास रखें 6 हजार रूपये नगदी सहित उसका मोबाइल छीन कर ले गए। वारदात के बाद घायल को इलाज के लिए तुरंत जिला चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी हैपीयूष पिता जीवनसिंह 23 वर्ष निवासी देसाई नगर बॉक्सिंग कोच है और नेशनल खिलाड़ी रह चुका है। पीयूष सुबह महाकालेश्वर मंदिर में भस्मार्ती दर्शन कर एक्टिवा से लौट रहा था, जबकि दूसरे वाहन पर उसके दोस्त सन्नी और शिवम पीछे से आ रहे थे। पीयूष को कंठाल चौराहे पर सुबह करीब 6 बजे आधा दर्जन बदमाशों ने रोका और रुपयों की मांग की। पीयूष ने रुपये देने से इंकार किया तो बदमाशों ने चाकुओं से उसके पैरों, कमर और हाथों में प्राणघातक हमला कर दिया और उसके पास रखे 6 हजार रुपये व एक मोबाइल लूट लिया। लहूलुहान हालत में पीयूष ने बदमाशों से बचने के लिये कोतवाली थाने की तरफ दौड़ लगाई और कुछ दूर पहुंचकर जमीन पर गिर पड़ा, तब तक बदमाश यहां से भाग चुके थे। उसे लोगों ने जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। पीयूष ने बताया कि चाकू मारने वाले बदमाशों में से वह गोलू ठाकुर निवासी डाबरीपीठा, मोनूराव निवासी महाकाल क्षेत्र, निक्कू और आयुष को पहचानता है, जबकि अन्य साथियों के नाम नहीं पता। कोतवाली पुलिस द्वारा जिला चिकित्सालय में पीयूष के बयान लिये जा रहे थे, इस दौरान उसके दूसरे मोबाइल पर बदमाशों ने कॉल किया और धमकी दी कि पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई तो अस्पताल में घुसकर जान से खत्म कर देंगेपुलिस ने प्रकरण दर्ज करने के बाद बदमाशों की तलाश प्रारंभ की लेकिन कोई भी हाथ नहीं लगा। घटनाक्रम सुबह 6 बजे का है और कंठाल चौराहे से कोतवाली थाने की दूरी महज 100 मीटर दूर है। बीच चौराहे पर चाकूबाजी की घटना से पुलिस की प्रभात गश्त पर भी सवाल उठ रहे हैं।